Web hosting क्या है? और क्यों जरुरी है? 

Web hosting क्या है? और क्यों जरुरी है? वे लोग जो blogging के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है पर hosting के बारे में पूरी जानकारी ना होने के कारण blogging के क्षेत्र में अपने पैर नहीं जमा पाते है। और निराश होकर blogging से अलविदा कह देते है।

किसी भी काम को करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी अवश्य रखनी चाहिए। क्योकि अधूरा ज्ञान मुसीबत बन सकता है यह बात जीवन में भी लागु होती हे और बिज़नेस में भी।

आज हम hosting के विषय में बात करेंगे, तो अंत तक हमारे साथ बने रहे, तो बिना किसी देरी के चलिए शुरू करते है।

 Web Hosting क्या है?



Web Hosting एक इंटरनेट का वो भाग हे जिसके बिना इंटरनेट पर कोई जानकारी अपलोड ( डालना ) नहीं की जा सकती है। Hosting एक प्रकार की जगह हे जो हमे hosting providing कंपनी से द्वारा कुछ धन राशि देकर प्राप्त होती है। बिना hosting के कोई भी जानकारी इंटरनेट पर नहीं डाली जा सकती। इसके लिए हमे hosting की अनिवार्य है।

 Blogging करने के लिए आपको वे सबसे पहले एक domain और hosting की जरुरत पड़ती है।
सबसे सस्ता domain खरीदने के लिए हमारी इस पोस्ट को जरूर पढ़े 69 रुपए में डोमेन कैसे ख़रीदे? 

मार्किट में बहुत सी कंपनी hosting provide करती हे जिनमे से कुछ निम्न है-


  1. Hostinger 
  2. Bluehost 
  3. Hostgator 
Hosting खरीदने के बाद कंपनियां हमे कुछ डिस्क स्पेस ( जगह ) प्रदान करती है। यह डिस्क स्पेस कितना होगा ये उसका मूल्य तय करता है। यदि आप नए blogger है तो आपको ज्यादा  पैसे खर्च करने की कोई जरुरत नहीं है आप shared hosting खरीद सकते है जो की अन्य hosting से सस्ती है। Hosting भी अलग-अलग प्रकार की होती हे तो आइये इनके बारे में अच्छे से जानते है।

Types Of Hosting | Hosting के प्रकार 

Hosting क्या है? के बारे में जाने के बाद होस्टिंग कितने प्रकार  की होती है इसके बारे में जानते हे। Hosting तीन प्रकार की होती है। 

  1. Shared Hosting 
  2. VPS ( Virtual Private Server ) Hosting 
  3. Dedicated Hosting 
आइए इनके बारे में विस्तार से जानते हे की hosting अलग-अलग प्रकार की क्यों होती है और किसके क्या फ़ायदे है। ताकि हम अच्छे से hosting खरीद सके और अपनी वेबसाइट को अच्छे से उपयोग कर सके। 

Shared Hosting-

Shared hosting को समझने के लिए हम एक उदहारण लेंगे जैसे मान लीजिये की एक कंपनी हे जिसमे हजारो की संख्या में लोग काम करते है। और ज्यादतर लोग एक दूसरे से भिन्न कार्य करते है। इसी तरह से shared hosting को समझना आसान होगा। जब हम shared hosting खरीदते है तो हमे एक ऐसा server दिया जाता हे जिसमे बहुत से लोग पहले से ही जुड़े होते है और रोजाना नए लोग जुड़ते है।

Shared hosting एक ही कंप्यूटर की हार्ड डिस्क जैसा होता है जिसमे बहुत से लोग अपना डाटा स्टोर करते है। तथा जब उसमे बहुत सारा डाटा अपलोड कर दिया जाता है और जब कोई इंटरनेट user कुछ सर्च करता है तो उस पेज को load होने में टाइम लेता है। जो की SEO के नजरिये से अच्छा नहीं है।

आपको अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का अच्छे से SEO करना आना चाहिए। अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का अच्छे से SEO करने के लिए हमारी इस पोस्ट को जरूर पढ़े। What is SEO in Business?


यह hosting, VPS hosting और Dedicated hosting के मुकाबले सस्ती और सरल होती है। इसे आप आसानी से  control कर सकते है। यह hosting उन लोगो को लेनी चाहिए जो पहली बार blogging कर रहे है क्योकि जब कोई नया blogger अपना ब्लॉग publish करता है तो उसके ब्लॉग पर ज्यादा ट्रैफिक आने की सम्भावनाय बहुत कम होती है।

जैसे-जैसे आपके ब्लॉग पर अच्छा खासा ट्रैफिक आने लगेगा तो आप बाद में अपनी hosting बदल भी सकते है।
जो की बहुत आसान है


Shared Hosting के फायदे।

  1. यह VPS और Dedicated hosting की तुलना में सस्ती होती है। 
  2. इसे instal करना ( उपयोग में लाना ) और इस्तेमाल करना बहुत आसान है। 
  3. इसका रख रखाव करना बहुत आसान है। 
  4. इसे हम अपनी जरुरत अनुसार बदल सकते है। 

Shared Hosting के नुकसान 

  1. इस hosting को अन्य लोगो के साथ शेयर किया जाता हे जिसके कारण इसका loading time बढ़ जाता है। 
  2. SEO की नजर से अच्छी नहीं है। 
  3. Hosting providing कम्पनिया shared hosting की security पर ज्यादा ध्यान नहीं देती।
  4. इसमें आपको बहुत ही कम फीचर्स मिलते हे जिसकी वजह से आप hosting शब्द से अपरिचित रह जाते है। 


VPS ( Virtual Private Server )-


इसको हम इस तरह समझ सकते है की जैसे मान लीजिये की एक बिल्डिंग हे जिसमे बहुत सारे कमरे है और उसमे आपका भी एक कमरा है जिसकी सारी चीजे आप इस्तेमाल कर सकते हो। इसी तरह जब आप VPS hosting खरीदते हो। तो कंपनी द्वारा आपको उस सर्वर का एक हिस्सा मिल जाता है। जिसमे कोई और blogger अपनी वेबसाइट का डाटा स्टोर नहीं कर सकता है। जिससे आपकी वेबसाइट loading होने में कम समय लेती  जिससे आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का SEO अच्छा  होता है।

इसकी कीमत shared hosting के मुकाबले थोड़ी ज्यादा है। लेकिन ये shared hosting के मुकाबले अच्छे और बेहतर परिणाम देती है जो इसे shared hosting की तुलना में बेहतर बनाती है।


VPS Hosting के फायदे। 

  1. यह shared hosting की तुलना में अच्छी सेवा प्रदान करती है। 
  2. इसमें आपको अपने server का full control मिलता है। 
  3. इसे उपयोग में लाना और control करना काफी सरल है। 
  4. यह आपको shared hosting के मुकाबले ज्यादा disk space प्रदान कराती है जिससे आप पहले से अधिक content अपलोड कर सकते है। 
  5. इसमें आपकी security पर अच्छा ध्यान दिया जाता है। 

VPS Hosting के नुकसान।  

  1. इसमें आपको Dedicated Hosting के मुकाबले कम सुविधाए मिलती है। 
  2. इसका इस्तेमाल वो लोग करते है जिन्हे blogging की अच्छी समझ है। 
  3. इसका इस्तेमाल करने के लिए आपके पास technical knowledge का होना आवश्यक है। 

 Dedicated Hosting-

Shared hosting में हमे अपने server को अन्य लोगो के साथ शेयर करना पड़ता है। पर dedicated hosting में ऐसा नहीं होता। यह shared hosting का पूरा उल्टा है। इसको हम कुछ इस तरह समझ सकते है की मान लीजिये की एक बिल्डिंग हे जिसके मालिक आप है उस बिल्डिंग की हर एक चीज आपकी हे और आप उसे जब और जैसे चाहे इस्तेमाल सकते है। इसी तरह dedicated hosting में आपको server का full control मिलता है और आप उसे अपनीओ मर्जी से इस्तेमाल कर सकते है। 

इस तरह के server में केवल एक ही वेबसाइट का content अपलोड किया जा सकता है। इसकी speed अन्य hosting की तुलना में सबसे बेहतर होती है। क्योकि यह केवल एक वेबसाइट के लिए ही काम में ली जाती है। 

इस hosting का उपयोग उन लोगो द्वारा किया जाता हे जिनकी वेबसाइट पर रोजाना बहुत से लोग visit करते हो। बहुत सी बड़ी कम्पनियाँ इस hosting का उपयोग करती हे जैसे Amazon, Flipkart, Snapdeel, etc . क्योकि इन वेबसाइट पर लोगो का मेला लगा रहता है। 

( यदि आप भी इन e-commerce वेबसाइट के जरिये करोडो कमाना चाहते है तो हमारी इस पोस्ट को जरूर पढ़े Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमाए? 

Dedicated Hosting के फायदे। 

  1. इस hosting की speed अन्य hosting के मुकाबले सबसे बेहतर होती है। 
  2. Shared तथा VPS Hosting में मिलने वाली सभी सुविधाए भी  इसमें प्रदान कराई जाती है। 
  3. इस hosting में ग्राहकों को सभी control और hosting के प्रति तरलता प्रदान कराई जाती है। 

Dedicated Hosting के नुकसान। 

  1. यह Shared तथा VPS hosting की तुलना में बहुत महंगी होती है क्योकि यह केवल एक वेबसाइट के लिए प्रयोग में लाई जाती है जिसके कारण एक व्यक्ति को ही इसकी कीमत चुकानी होती है। 
  2. इसे प्रयोग करना आसान नहीं है, इसका उपयोग करने के लिए आपके पास technical knowledge का होना बहुत जरुरी है। 
  3. इसे आप अकेले control नहीं कर सकते। इसे control करने के लिए आपको एक टीम बनानी होगी। 



मै आशा करता हूँ की आपको Web Hosting के विषय में सभी बाते समझ में आ गयी होंगी। यदि आप भी blogging के क्षेत्र में अपना नाम बनाना चाहते है। और जानना चाहते हे की blogging कैसे करते है तो हमसे जुड़ने की लिए आप हमे social media पर follow कर सकते है। हम वहा भी blogging के विषय में पोस्ट करते रहते है।

Thank You!